God and Moon

ना पूँछ तू इतना की- मै कौन हूँ , कहाँ हूँ , कैसा हूँ,
लबों से जान ही निकल आएगी जवाब के साथ ।
छोड़ दे मुझको इन परिंदों , इन जनावरों के बीच ए ‘नूर ‘
पता तो चले , कितना दूर और है मेरे इस खुदा का साथ ।।
-नूर

Advertisements